ज़िंदगी का हर कदम

ज़िंदगी का हर कदम तेरे साथ चलते है
हर लम्हा तुझ संग बिताने हम मचलते है
डर है तू सफ़र में कही आगे न निकल जाए
इसलिए जानम तेरी तरक्की से जलते है |

5 टिप्पणियाँ

  1. Rewa Smriti said,

    अप्रैल 14, 2008 at 7:31 पूर्वाह्न

    हर लम्हा तुझ संग बिताने हम मचलते है

    Achhi sher hai.
    Bus itna sa khwab hai…….🙂

  2. Tarun said,

    अप्रैल 14, 2008 at 11:43 अपराह्न

    awesome …
    डर है तू सफ़र में कही आगे न निकल जाए
    इसलिए जानम तेरी तरक्की से जलते है |

    kya andaz hai …

    -tarun

  3. mehhekk said,

    अप्रैल 15, 2008 at 2:50 पूर्वाह्न

    rews ,tarun ji dhanyawad

  4. anurag arya said,

    अप्रैल 16, 2008 at 8:06 पूर्वाह्न

    घड़ी भर में नाआशना (अपरिचित) हो गया
    न जाने मेरे दिल को क्या हो गया |
    bahut badhiya….

  5. duggu said,

    मई 25, 2009 at 3:48 पूर्वाह्न

    just make a wellness around my heart to this
    beautiful line


एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: