शिकायतों का बक्सा

शिकायतों का बक्सा ले घूमते है वो लोग
दूसरों को ज़िम्मेवार कहते है वो लोग

खुद के घर का आँगन दमके और कूड़ा
गली के  दरवाज़े पर रखते है वो लोग

सफेद कपड़ों में साफ़ सुथरे लगते देखो
मगर दिलजहन से मैले है वो लोग

13 टिप्पणियाँ

  1. नवम्बर 25, 2008 at 1:25 अपराह्न

    अच्‍छी रचना के लिए आपको बधाई

  2. Rewa Smriti said,

    नवम्बर 25, 2008 at 1:53 अपराह्न

    खुद के घर का आँगन दमके और कूड़ा
    गली के दरवाज़े पर रखते है वो लोग!

    Beautiful Creation of beautiful mind!
    Aur sabhy hone ka dawa karte ye log!😛

  3. makrand said,

    नवम्बर 25, 2008 at 2:16 अपराह्न

    bahut accha composition

  4. नवम्बर 25, 2008 at 2:50 अपराह्न

    बहुत सुन्दर.

  5. नवम्बर 25, 2008 at 3:02 अपराह्न

    badi sundar baat kahi aapne.
    ALOK SINGH “SAHIL”

  6. paramjitbali said,

    नवम्बर 25, 2008 at 3:29 अपराह्न

    बहुत सही बात कही है।हर जगह यही हाल है।बहुत सामयिक रचना है।बधाई।

  7. S.B.Singh said,

    नवम्बर 25, 2008 at 3:34 अपराह्न

    खुद के घर का आँगन दमके और कूड़ा
    गली के दरवाज़े पर रखते है वो लोग.

    बहुत सुन्दर.

  8. Shubhashish Pandey said,

    नवम्बर 25, 2008 at 4:12 अपराह्न

    kam shabdo me badi baat
    bahut sunder

  9. akshaya-mann said,

    नवम्बर 25, 2008 at 5:45 अपराह्न

    लिखा तो लाजबाब है कोई बयानी नही…….परन्तु
    अभी कुछ अधूरी-अधूरी सी लगती है….
    उन लोगो को भी लिख दिया जाए तो चार चाँद लग जायंगे…..
    उम्मीद करता हूं ] अगली रचना में उन लोगों को भी सामने लायेंगी आप ..


    ๑۩۞۩๑वन्दना
    शब्दों की๑۩۞۩๑
    सब कुछ हो गया और कुछ भी नही !!

    मेरी शुभकामनाये आपकी भावनाओं को आपको और आपके परिवार को
    आभार…अक्षय-मन

  10. नवम्बर 25, 2008 at 7:35 अपराह्न

    बहुत ही सुंदर बात लिखि है आप ने एक नंगा सच.
    धन्यवाद

  11. alpana said,

    नवम्बर 26, 2008 at 4:32 पूर्वाह्न

    sahi observe kiya hai–sachcha kathan.

  12. नवम्बर 26, 2008 at 10:05 पूर्वाह्न

    खुद के घर का आँगन दमके और कूड़ा
    गली के दरवाज़े पर रखते है वो लोग
    भली लगी आपकी सुंदर बात!

  13. Nimesh Kaushik said,

    नवम्बर 26, 2008 at 10:32 पूर्वाह्न

    kaun log ????


एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: