हाइकू- नारी

हाइकू- नारी

1. ममता से भरी
    अन्नपूर्णा कहलाती है
    जन्मदात्रि

2. जिसके बिना
    सारा जग सुना सुना
    मा है वो

3. कलाई पर राखी
    भाई की दुलारी
    बहन वो

4. लक्ष्मी सी आई
   खुशियों का धन लाई
   बेटी वो

5. समर्पित सदैव
    विश्वास पर खरी
   अर्धांगिनी

6. पूजनीय सबकी
    आदरभाव जिसके लिए
    देवी वो

7. बिदाई की रस्म
    जग की रीत है
    बेटी रोए

8. अपनो के गम
    आँचल में छुपाती
    धरती जैसे

9. चाँद पर आज
    रखा कदम नारी ने
    बढता हौसला

10. चाहत उसकी
      दिवानगी की हद तक
      प्यार की मूरत.