हाइकू – समय

हिन्दी में हाइकू लिखने का हमारा ये पहला प्रयास है|

हाइकू – समय

1. रोकना चाहती हूँ                         6. दिल के जज़्बात
समय मुठ्ठी में                                    समय रहते कह दो
    भागता जाए                                      नयना बरसे

2. रेत का  टीला                               7. काम जो करता
    समय का रेला                                 समय को महत्व देता
    फिसलता जाए                                 लक्ष्मी विराजे

3. घड़ी की टिक टिक                       8. इतिहास दोहराता
    समय की कमतरता                         गुजरा समय फिर लाता
    धड़काने तेज़                                     घूमता कालचक्र

4. किसिका नही होता                       9. ज़िंदगी के पहिए
    समय अकेला चलता                         समय की रफ़्तार
    हर क्षण अनमोल                              निशाना मंज़िल

5. किसिको नही मिलता                   10. तूफा को मोड़ दे
    समय से पहले                                   समय में बल है
    खेल नसीबका                                     मेहनत ज़रूरी.

   

वक़्त ही बाकी रह गया है

वक़्त ही बाकी रह गया है

अक्सर सुनती आई हूँ,वक़्त की कमी है |
मेरी आँखों में बस, तेरी यादों की नमी है ||

एक वक़्त था जब,हम लम्हा लम्हा जिये थे |
इश्क़ की मधुरा ,तुम्हारे साथ साथ पिये थे ||

सच कहते है सब,के वक़्त रेत का टीला है |
समझ नही पाए खेल,वक़्त ने जो खेला है ||

वक़्त ही तो था , तुम सावन से आए थे |
वक़्त ने ही बताया , तुम बस साये थे ||

वक़्त ने ही हमारे, इश्क़ का बिगुल बजाया |
वक़्त ने ही हमारे , अरमानो को सजाया ||

ढूँढ रही हूँ आज, वो वक़्त कहा खो गया है |
मुझे ख्वाब से जगाया ,और खुद सो गया है ||

यारा इश्क़ के साथ , मेरा सब कुछ चला गया है |
अब तो एक इंतज़ार, और वक़्त ही बाकी रह गया है ||

top post